यूपी की इस यूनिवर्सिटी के पाठ्यक्रम में शामिल हुआ 'सीएए व अनुच्छेद 370'

Reported by lokpal report

11 Jan 2020

93

 

 
प्रयागराज: उत्तर प्रदेश में एक मुक्त विश्वविद्यालय ने नागरिकता संशोधन अधिनियम और अनुच्छेद 370 पर जागरूकता अभियान के तहत उसे पाठ्यक्रम में शामिल कर लिया है। नया सिलेबस जनवरी 2020 से लागू हुआ।

राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर कामेश्वर नाथ सिंह ने आईएएनएस को बताया, "हमारा विश्वविद्यालय समय और समाज की आवश्यकता के अनुसार पाठ्यक्रम संचालित करता है। कुछ पाठ्यक्रम ऐसे हैं जिसमे छात्रों को कॉलेज में उपस्थित होना जरुरी नहीं है। असाइनमेंट के मूल्यांकन के आधार पर उनका प्रमाणपत्र उन्हें सौंप दिया गया। अभी हमने इस श्रेणी में सीएए और अनुच्छेद 370 की शुरुआत की है। "

वीसी ने कहा इन विषयों पर तीन महीने का जागरूकता पाठ्यक्रम जनवरी 2020 से शुरू हुआ। कोर्स के लिए एडमिशन शुरू हो गए हैं। छात्रों को असाइनमेंट दिया जाएगा और असाइनमेंट के सफल होने के बाद उन्हें सर्टिफिकेट दिया जाएगा। सीएए के पाठ्यक्रम को पांच भागों में विभाजित किया गया है, जबकि अनुच्छेद 370 और 35 ए पर छह भागों को रखा गया है।

 वीसी ने कहा, यह एक अभ्यास है जो लोगों को सीएए और अनुच्छेद 370 और 35 ए के बारे में जागरूक करने के लिए है। उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम धारा 370 के निरसन की पूरी प्रक्रिया और महत्व और नागरिकता संशोधन अधिनियम लाने के पीछे का तर्क बताता है।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# caa 2019 # article 370 # uprtou # public lokpal # plnews