सम्बोधन में बोले मोदी 'लॉक डाउन ख़त्म हुआ है लेकिन वायरस अभी भी है' 

Reported by lokpal report

20 Oct 2020

197


नई दिल्ली: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में नागरिकों से आगामी त्योहारी सीजन में भी एहतियाती कदम उठाने का आग्रह किया। उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि "लॉकडाउन खत्म हुआ है कोरोनोवायरस नहीं । मोदी ने कहा कि मास्क नहीं पहनने या सामाजिक दूरी न रखने से बच्चों और बुजुर्गों सहित सभी का जीवन खतरे में पड़ जाएगा।

उन्होंने चेतावनी दी “पिछले कुछ दिनों में, हमने मास्क पहने लोगों की तस्वीरें और वीडियो नहीं देखे हैं। कुछ लोगों ने साफ़ तौर पर सावधानी बरतनी बंद कर दी है, यह देश के कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए अच्छा नहीं है”। उन्होंने कहा "अगर आप लापरवाह हो रहे हैं, अगर आप बिना मास्क लगाए बाहर कदम रखते हैं, तो आप अपने परिवार के सदस्यों की जान खतरे में डाल रहे हैं, जिनमें बच्चे और बुजुर्ग भी शामिल हैं।"

मोदी ने कहा कि भारत ने महामारी के खिलाफ अपनी लड़ाई में "एक लंबी दूरी तय की" - एक ऐसी स्थिति से आ रही है जब उसके पास मौजूदा परिस्थितियों में कोविद -19 से लड़ने के लिए सीमित संसाधन में उसने 12,000 से अधिक रोगियों के लिए 90 लाख बिस्तर परीक्षण केंद्र और 2,000 से अधिक प्रयोगशालाएं बनवाईं जिनमें से संचयी परीक्षण 10 करोड़ का आंकड़ा पार करने वाला है।

मोदी ने कई विकसित राष्ट्रों की तुलना में भारत का प्रदर्शन कितना बेहतर है, इस बात पर उदाहरण देते हुए कहा, 'इस सीजन में त्योहारों की रौनक बजर में लौट रही है। भारत अभी एक स्थिर स्थिति में है। सभी भारतीयों के प्रयास से स्थिति में सुधार हुआ है। हमें इसे बिगड़ने नहीं देना है”।

मोदी ने संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रेटियन और कुछ अन्य देशों के उदाहरणों का हवाला दिया जो वायरस से लड़ने के लिए बेहतर थे, लेकिन वहां भारत की तुलना में मृत्यु दर और रिकवरी दर बहुत खराब हैं।

मोदी ने कहा, “हमारे वैज्ञानिक भी टीका विकसित करने के लिए काम कर रहे हैं; सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए बड़े प्रयास के साथ काम कर रही है कि यह टीका हर भारतीय तक कब पहुँचे”।

मोदी ने कबीरदास के छंदों का उद्धरण दिया - "पक्की खेती देख के, गरीब किया किसान/ अजहुँ झोला बहुत है, घर आवे तब जान''। उन्होंने रामचरितमानस से - "रिपुर रुज पावक पाप प्रभु अहि गानी ना छोटी करि"।

मोदी ने सोशल मीडिया पर सक्रिय लोगों से एहतियाती उपायों पर जागरूकता अभियान चलाने की भी अपील की। उन्होंने कहा "राष्ट्र के लिए आपकी सेवा के रूप में इन जागरूकता अभियानों के बारे में सोचें" ।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# narendra modi # public lokpal # plnews