आचार संहिता खत्म होते ही एक्शन मोड में सीएम भूपेश बघेल, समीक्षा बैठक में दिया ये अहम निर्देश

Reported by lokpal report

01 Jun 2019

42

रायपुर: छत्तीसगढ़ से आचार संहिता खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एक्शन मोड पर आ गए हैं। सीएम बघेल ने वन विभाग और परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक ली। वन विभाग की समीक्षा बैठक नया रायपुर के अरण्य भवन में हुई। इस बैठक में वन मंत्री मोहम्मद अकबर सहित विभाग के तमाम आला अधिकारी शामिल हुए। परिवन विभाग की बैठक में नया रायपुर स्थित मंत्रालय में हुई। इस बैठक में भी विभाग के आला अधिकारी शामिल हुए। दोनों विभाग की समीक्षा बैठक में सीएम बघेल ने अधिकारियों से कई मुद्दों पर चर्चा की। सीएम बघेल ने अब तक के कार्यों की समीक्षा की। साथ ही कई अहम निर्देश भी विभागों को दिए।

शनिवार को वन विभाग की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस बात के निर्देश दिए कि लघुनवोपज के प्रोसेसिंग के लिए अधिक से अधिक उद्योग लगाए जाए जिससे ना केवल स्थानीय आदिवासियों को लाभ मिले बल्कि राज्य का नाम भी रौशन हो। उद्योगों के स्थापना के लिए सीएम ने एक माह के भीतर प्रस्ताव बनाकर देने की बात कही। मीडिया से बात करते हुए सीएम बघेल ने इस बात पर दुख जताया कि जिस छत्तीसगढ़ में 44 फीसदी वन हो, जहां लघुवनोपज की भरमार हो वहां प्रोसेसिंग के लिए आज तक एक भी उद्योग की स्थापना नहीं की जा सकी है। वहीं बैठक में नदियों के किराने फलदार वृक्षारोपण अभियान में सुरक्षा के साथ तेजी लाने के भी निर्देश सीएम बघेल ने दिए हैं।

परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक में सीएम बघेल ने कड़े शब्दों में अधिकारियों को जुगाड़ से ड्राइविंग लाइसेंस बनाने पर रोक लगाने के निर्देश दिए। अब वाहन चालकों को प्रशिक्षण के बाद ही लाइसेंस जारी करने के भी निर्देश जारी किए गए हैं। नया रायपुर स्थित आरण्य भवन में परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने ये फैसला लिया। इस बैठक में परिवहन मंत्री मोहम्द अबकर सहित विभाग के आला अधिकारी मौजूद रहे।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# cm bhupesh baghel # raipur # chhatishgarh # public lokpal # plnews