बुधवार शाम से पचास हज़ार किसानों ने सरकार के 'विश्वासघात' के खिलाफ शुरू किया मार्च 

Reported by lokpal report

21 Feb 2019

100

 


मुंबई: पिछले 12 महीने में दूसरी बार, 50,000 से अधिक किसानों ने राज्य और केंद्र में भाजपा सरकारों द्वारा किसानों के साथ किये गए "विश्वासघात" के खिलाफ नासिक से मुंबई तक 180 किलोमीटर की पैदल यात्रा शुरू किया है।

कम्युनिस्ट विचारक गोविंद पानसरे की चौथी पुण्यतिथि के अवसर पर महाराष्ट्र भर के 23 जिलों के किसान मार्च में शामिल हुए।

महाराष्ट्र में किसानों और आदिवासियों की विभिन्न मांगों को लेकर अखिल भारतीय किसान सभा (एआईकेएस) के सदस्यों ने नासिक से मुंबई के लिए यह मार्च शुरू किया है। यह मार्च नासिक से मुंबई के मन्त्रालय पर जा कर रुकेगी। एआईकेएस (अखिल भारतीय किसान सभा) द्वारा आयोजित किए जा रहे महारैली महिलाओं सहित बड़ी संख्या में किसान शामिल हैं।

उम्मीद है कि किसान नासिक से मुंबई के बीच की पैदल दूरी 165 किलोमीटर की दूरी तय कर 27 फरवरी को मुंबई पहुंचेंगे। 27 फरवरी को स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आज़ाद की 88 वीं पुण्यतिथि होती है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, किसान कृषि ऋणों की माफी, न्यूनतम समर्थन मूल्य, सिंचाई सुविधाओं और पेंशन के प्रावधान जैसी मांगों के लिए सरकार पर दबाव डाल रहे हैं।

पिछले साल मार्च में, अखिल भारतीय किसान सभा ने नासिक से मुंबई तक 30,000 से अधिक किसानों के नेतृत्व में एक लंबा विरोध मार्च आयोजित किया था। 5 मार्च को मध्य नासिक के सीबीएस चौक से शुरू हुई यह रैली 11 मार्च को मुंबई पहुंची थी।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# kisan march # loan waiver # akhil bharatiya kisan sabha # public lokpal # plnews