गुजरात मंत्री चुडासमा के चुनाव को रद्द करने के हाई कोर्ट के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक 

Reported by lokpal report

15 May 2020

211

 


नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को गुजरात उच्च न्यायालय के आदेश पर राज्य के मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा के 2017 में विधानसभा के चुनाव को रद्द करने पर रोक लगा दी। उच्च न्यायालय ने "भ्रष्ट आचरण" और "रिकॉर्ड में हेरफेर" के आधार पर उनका चुनाव रद्द कर दिया था"।

जस्टिस एल नागेश्वर राव, संजय किशन कौल और बी आर गवई की पीठ ने चुडासमा की याचिका पर नोटिस जारी किया और इस संबंध में कांग्रेस के उम्मीदवार अश्विन राठौड़ से भी जवाब मांगा, जिन्होंने मंत्री के चुनाव को चुनौती दी थी।

मुख्यमंत्री विजय रूपानी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में शिक्षा, कानून और न्याय, विधायी और संसदीय मामलों सहित कई विभागों का प्रभार संभालने वाले चुडासमा 2017 विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को 327 वोटों के अंतर से हराने के बाद ढोलका निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए थे।

चुडासमा के चुनाव को चुनौती देते हुए, अश्विनी राठौड़ ने आरोप लगाया था कि रिटर्निंग अधिकारी, धवल जानी ने पोस्टल बैलट के माध्यम से प्राप्त 429 वोटों को अवैध रूप से खारिज किया था।

गुजरात उच्च न्यायालय ने मंगलवार को चुडासमा के निर्वाचन को "भ्रष्ट व्यवहार" और "रिकॉर्ड में हेरफेर" के आधार पर रद्द कर दिया था। न्यायमूर्ति परेश उपाध्याय ने अपने फैसले में कहा कि जानी के बयान के दौरान, यह पता चला कि कुल 1,356 मत पोस्टल बैलेट के माध्यम से प्राप्त हुए थे, जिनमें से 429 मतों को गिनती के समय ख़ारिज कर दिया गया था।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# bhupendra singh chudasama # gujrat assembly poll 2017 # public lokpal # plnews