गौरी लंकेश हत्याकांड से जुड़े प्रज्ञा ठाकुर के तार, SIT ने अदालत में पेश की रिपोर्ट!

Reported by lokpal report

09 May 2019

61

 

 
नई दिल्ली : पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड की जाँच कर रही कर्नाटक पुलिस की एक जाँच से बड़ा खुलासा हुआ है। 2006 और 2008 के बीच समझौता एक्सप्रेस, मक्का मस्जिद, अजमेर दरगाह और मालेगांव में हुए धमाकों के लिए कथित तौर पर जिम्मेदार हिंदुत्व संगठन अभिनव भारत के चार लापता सदस्यों ने 2011 से 2016 के बीच सनातन संस्था के तमाम संदिग्धों को देश भर में गुप्त प्रशिक्षण शिविरों में बम बनाने का प्रशिक्षण दिया है। पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या में कर्नाटक पुलिस द्वारा की गई जांच से इस बात का खुलासा किया गया है। पुलिस का यह खुलासा SIT द्वारा बेंगलुरु की एक अदालत में पेश किए गए दस्तावेजों का हिस्सा है।

गौरी लंकेश मामले की जांच कर रही कर्नाटक एसआईटी द्वारा अदालत में प्रस्तुत दस्तावेजों के अनुसार, सनातन संस्था से जुड़े तीन लोग, और लंकेश हत्या मामले में गिरफ्तार और प्रशिक्षण शिविर में भाग लेने वाले चार सदस्यों ने इस बात को स्वीकार किया है कि शिविर में "बाबाजी" "कई गुरुजियों" ने उन्हें बम बनाने का प्रशिक्षण दिया गया था।

"बाबाजी" की पहचान उनके लापता होने के 11 साल बाद नवंबर 2018 में हुई जब वह गुजरात में सुरेश नायर के रूप तब सामने आए और जिनकी पहचान 2007 में अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामले में अभिनव भारत के आरोपी सदस्य सुरेश नायर के रूप में हुई।

नायर की गिरफ्तारी के बाद यह भी खुलासा भी हुआ कि संस्था से जुड़े शिविरों में तीन अन्य बम विशेषज्ञ डांगे, कलसंगारा और अश्विनी चौहान थे। ये सभी समझौता एक्सप्रेस मामले और अन्य चार विस्फोट मामले में "घोषित अपराधी" हैं।

लंकेश मामले में गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक पांचवें ट्रेनर की पहचान प्रताप हाजरा के रूप में हुई है, जो पश्चिम बंगाल के हिंदुत्व संगठन भवानी सेना से जुड़ा हुआ है। 

2006 से 2008 के बीच अभिनव भारत से जुड़े बम विस्फोटों के लापता संदिग्धों के बीच संबंध, जिसमें 117 लोग मारे गए, और एसआईटी जांच के दौरान लंकेश की हत्या से जुड़े एक समूह के सदस्यों ने हाल के महीनों में खुलासा किया है।

बता दें कि 2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में 13 अन्य लोगों के साथ एक आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर का नाम भी है। अभिनव भारत के दो लापता सदस्य रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे शामिल हैं, जिन्हें "घोषित अपराधी" घोषित किया गया है। प्रज्ञा सिंह ठाकुर भाजपा से भोपाल लोकसभा प्रत्याशी भी हैं।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# gauri lankesh # sit # pragya singh thakur # public lokpal # plnews