लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस में पहला बड़ा बदलाव !

Reported by lokpal report

24 Jun 2019

848


नई दिल्ली: कांग्रेस ने सोमवार को उत्तर प्रदेश में अपनी जिला समितियों को भंग कर दिया और लोकसभा चुनाव के दौरान व्यापक अनुशासनहीनता की शिकायतों को देखने के लिए तीन सदस्यीय पैनल का गठन किया। यह लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में पार्टी के सबसे बुरे प्रदर्शन के बाद लिया गया पहला बड़ा फैसला है।

11 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनावों को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय भी लिया गया।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) ने पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई में बड़े पैमाने पर बदलाव के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। पार्टी  महासचिव व यूपी पूर्व की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा और महासचिव यूपी पश्चिम के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा पेश किये गए प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है।  यह बात कांग्रेस महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल द्वारा जारी एक बयान में कही गई है।

राज्य में विधानसभा उपचुनावों के साथ, पार्टी ने पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की सभी विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की तैयारी के लिए एक दो सदस्यीय टीम का गठन करने का फैसला किया गया है।

बयान में कहा गया है कि एआईसीसी ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों के दौरान अनुशासनहीनता की तमाम शिकायतों को देखने के लिए एक तीन सदस्यीय अनुशासनात्मक समिति का गठन करने का भी फैसला किया है।

पार्टी विधायक अजय कुमार लल्लू को एक निश्चित अवधि के लिए यूपी पूर्व में संगठनात्मक परिवर्तन करने के लिए प्रभारी नियुक्त किया गया है। इसमें कहा गया है कि सिंधिया उस व्यक्ति के नाम की घोषणा करेंगे, जो यूपी वेस्ट में संगठनात्मक बदलाव करने का प्रभारी होगा।

पार्टी की राज्य इकाई को विघटित तब किया गया जब प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद समीक्षा बैठकें कीं। पार्टी को लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय स्तर पर केवल 52 सीटें मिलीं थीं।

11 विधायकों के सांसद चुने जाने बाद सम्बंधित विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने हैं।

संसदीय चुनावों से ठीक पहले पार्टी महासचिव के रूप में नियुक्त की गईं प्रियंका गांधी और सिंधिया ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस उम्मीदवारों के लिए जोरदार प्रचार किया था। लेकिन राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस केवल रायबरेली जीतने में कामयाब हो सकी। यहां तक ​​कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से अपने पारिवारिक गढ़ अमेठी हार गए।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# general elections 2019 # rahul gandhi # priyanka gandhi # congress # public lokpal # plnews