ट्रम्प के दौरे में 'भारत से ट्रेड डील पर संदेह', कहा 'भारत ने अच्छा नहीं किया'

Reported by lokpal report

19 Feb 2020

270

 


नई दिल्ली: भारत यात्रा से कुछ ही दिन पहले, डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को भारत के साथ एक प्रत्याशित व्यापार समझौते की संभावना पर संदेह व्यक्त किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि वह बाद में भारत के साथ "बिग डील' कर सकते हैं हालाँकि वह नहीं जानते कि 'कब' बहरहाल उन्होंने कहा है कि सौदा नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव से पहले किया जाएगा।

जॉइंट बेस एंड्रयूज में मंगलवार दोपहर (स्थानीय समयानुसार) उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "हम भारत के साथ एक व्यापार सौदा कर सकते हैं। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, ट्रम्प 24 और 25 फरवरी को भारत आने वाले हैं। अमेरिका और भारत यात्रा के दौरान "व्यापार पैकेज" पर हस्ताक्षर कर सकते हैं'। यह पूछे जाने पर कि क्या वह यात्रा से पहले भारत के साथ 'ट्रेड डील' कर सकते हैं, ट्रम्प ने कहा, "हम भारत के साथ एक बहुत बड़ा व्यापार सौदा करेंगे, हो सकता है कि यह राष्ट्रपति चुनाव से पहले हो।"

सूत्रों के अनुसार, अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर, ट्रम्प के साथ भारत न आने की संभावना है। हालाँकि अधिकारियों ने इसे पूरी तरह खारिज भी नहीं किया है।

अमेरिका-भारत व्यापार संबंधों पर स्पष्ट असंतोष जताते हुए ट्रम्प ने कहा, "भारत ने हमारे साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया है''। हालाँकि उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की और कहा कि वह अपनी भारत यात्रा के लिए बेहद उत्साहित हैं। ट्रंप ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री मोदी को बहुत पसंद करता हूं।"

इन सबसे इतर ट्रम्प प्रशासन द्वारा वर्ष 2018 में भारत सहित तमाम देशों से स्टील और अल्युमिनियम के निर्यात पर टैरिफ जड़ने के बाद से भारत और अमेरिका के बीच व्यापारिक तनाव चल रहे हैं। ट्रम्प प्रशासन द्वारा 2019 की शुरुआत में भारत की जीएसपी स्थिति को रद्द करने के बाद, हालाँकि दिल्ली ने तुरंत किसी कार्रवाई से इनकार कर दिया, लेकिन अंत में जून 2019 में उसने भी वापस टैरिफ की अनुमति ठोंक दिया।

नवंबर 2018 में, अमेरिका ने ईरान से तेल आयात करने वाले देशों पर दबाव डाला, भारत को छह महीने की छूट दी और फिर 2019 में पूरी तरह से रोक दिया। अक्टूबर 2018 में, भारत ने रूसी एस -400 एयर डिफेन्स सिस्टम खरीदने के लिए 5.5 बिलियन डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किए। जो 2020 के अंत तक भारत आएंगी। ट्रम्प प्रशासन के CAATSA ने इस सौदे पर प्रहार किया है और भारत किसी भी तरह की राहत की कोई गारंटी नहीं है।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# donald trump # narendra modi # america-india trade relations # public lokpal # plnews