आज आधी रात से जेट एयरवेज के यात्रियों के लिए खड़ी होने वाली हैं और मुश्किलें

Reported by lokpal report

14 Apr 2019

38

 


नई दिल्ली: पैसों की तंगी से जूझ रहे जेट एयरवेज के केवल 7 विमान आज रात उड़ान भर सकेंगे। जेट एयरवेज के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नेशनल एविएटर्स गिल्ड व द यूनियन फॉर जेट एयरवेज के 1000 से अधिक पायलटों और जेट एयरवेज के इंजीनियरों ने आधी रात से उड़ान बंद करने का फैसला किया है। हालांकि, लगभग 1,100 पायलटों को कल सुबह बैठक होने व सामूहिक रूप से एक औपचारिक निर्णय लेने की उम्मीद है।

नेशनल एविएटर्स गिल्ड के प्रमुख कैप्टन करण चोपड़ा ने कहा, "आधी रात से उड़ानें बंद हो जाएंगी।" जेट एयरवेज के पायलटों और इंजीनियरों को तीन महीने से भुगतान नहीं किया गया है और सरकार को अब इसमें दखल देना चाहिए। उन्होंने कहा कि "बेरोजगारी एक चुनावी मुद्दा है  एक या दो दिन में, जेट एयरवेज में 20,000 से अधिक लोग बेरोजगार हो सकते हैं"।

जेट एयरवेज के एक प्रवक्ता ने कहा कि नेशनल एविएटर्स गिल्ड की हड़ताल से "परिचालन अप्रभावित रहेंगे", हालांकि एयरलाइन के निर्धारित समय में कटौती होगी। एयरलाइन ने कहा, "सात विमान परिचालन में रहेंगे, जो उन पायलटों द्वारा उड़ाए जाएंगे, जो गिल्ड का हिस्सा नहीं हैं।" प्रबंधन के सूत्रों ने एक समाचार चैनल को बताया कि उसके 60 प्रतिशत पायलट संघ का हिस्सा नहीं हैं। इस समस्या के शुरू होने से पहले अपनी परेशानी शुरू होने से पहले 119 विमान उड़ान भरेंगी।

बैंक ऋण में 1।2 बिलियन डॉलर से अधिक की राशि बकाया होने के कारण जेट एयरवेज ने पिछले सप्ताह अपनी अधिकांश अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को स्थगित कर दिया था।

नेशनल एविएटर्स गिल्ड द्वारा जारी बयान में लिखा गया है कि "यह कुछ जवाबों के तलाश करने का समय है। विनम्रतापूर्वक उन लोगों से पूछें, जिनके पास भविष्य में हमारी मदद करने की शक्ति है। इसलिए, हम सभी पायलटों से अनुरोध करते हैं कि वे 15 सितंबर को सिरोआ केंद्र में अपने पूरे गणवेश में 10:00 बजे एकत्रित हों।" 

पिछले सप्ताह एयरलाइन ने तमाम उड़ानों को रद्द कर दिया था, उस समय एयरलाइन के पास केवल यात्रियों के ही 3,500 करोड़ रु बकाया थे। बैंकों के अलावा मुंबई आधारित इस एयरलाइन के पास ऋणदाताओं, आपूर्तिकर्ताओं व तेल कंपनियों के पैसे भी बकाया हैं .

भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई में जेट एयरवेज के ऋणदाताओं का समूह एयरलाइन में 75 फीसदी तक हिस्सेदारी लेने के लिए नए निवेशक तलाश रहा है। शुरुआती बोलियां बुधवार के अंत तक जमा की जानी थीं, लेकिन बैंक ने समय सीमा बढ़ाकर 12 अप्रैल कर दी थी।

बुधवार को इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने बकाया नहीं चुकाने पर जेट एयरवेज को कुछ घंटों के लिए ईंधन की आपूर्ति रोक दी।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# jet airways # jet airlines # public lokpal # plnews