प्रचार पर रोक के 72 घंटे पूरे होने के बाद प्रज्ञा ठाकुर को चुनाव आयोग ने थमाया एक और नोटिस 

Reported by lokpal report

05 May 2019

45

 


नई दिल्ली: मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी व भोपाल की एक भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर को एक शिकायत पर चुनाव आयोग द्वारा एक नोटिस भेजा गया है जिसमे कहा गया है कि चुनाव आयोग द्वारा तीन दिनों के प्रतिबंध के दौरान भी उन्होंने अपना चुनावी अभियान जारी रखा था। 

बाबरी मस्जिद विध्वंस व मुंबई ब्लास्ट में शहीद हुए पूर्व एटीएस अधिकारी हेमंत करकरे पर अपने अनुचित बयान के कारण प्रज्ञा ठाकुर को चुनाव आयोग ने 72 घंटों के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। नई शिकायत पर चुनाव अधिकारी ने प्रज्ञा ठाकुर से जवाब माँगा है कि उन्होंने गुरुवार सुबह से शुरू हुए चुनाव आयोग के 72 घंटे के प्रतिबंध की अवहेलना क्यों की?

चुनाव अधिकारी ने दो दिनों के भीतर उनसे इस संबंध में जवाब मांगा है। कांग्रेस की शिकायत के बाद उन्हें नोटिस भेजा गया था कि साध्वी ने अपने गाने के माध्यम से तीन दिन की अवधि में चुनाव प्रचार करके नियमों का उल्लंघन किया।

साध्वी, जिसकी प्रतिबंध अवधि रविवार को समाप्त हो गई, वह वापस मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में चुनाव प्रचार कर रही है, जहां से वह कांग्रेस के दिग्गज दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ रही है।

कांग्रेस का आरोप है कि 72 घंटे के प्रतिबंध के दौरान साध्वी प्रज्ञा तमाम मंदिरों में गईं और धार्मिक गीतों के माध्यम से गुप्त रूप से प्रचार कर प्रतिबंध की अवहेलना की।

भोपाल में 12 मई को लोकसभा चुनाव के छठें चरण में मतदान होगा। प्रज्ञा कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# pragya shingh thakur # sadhvi pragya singh thakur # mcc # general elections 2019 # public lokpal # plnews