बेंगलुरु में बेकरी को ढंकना पड़ा अपना नाम, सुप्रीम कोर्ट के आदेश की धड़ल्ले से हो रही है अवहेलना 

Reported by lokpal report

23 Feb 2019

99

 


बेंगलुरु: बेंगलुरु की एक बेकरी को अपने साइनबोर्ड को मजबूरन ढंकना पड़ा। ऐसा इसलिए क्योंकि बेकरी के साइनबोर्ड पर 'कराची बेकरी' लिखा था। कुछ लोग 'कराची' नाम के विरोध में दुकान के बाहर इकट्ठे हो गए और तोड़फोड़ करने लगे। 

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत भर में कश्मीरियों को निशाना बनाए जाने की खबरों के बीच यह घटना सामने आई है। इस बीच, बेकरी के कर्मचारियों को साइनबोर्ड के 'कराची' हिस्से को ढँकना पड़ा है।

पुलिस ने पुष्टि की कि उन्हें शुक्रवार देर रात बेकरी से एक इमरजेंसी कॉल आई। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि कराची बेकरी पाकिस्तान का आउटलेट है।

पुलवामा हमले के बाद, कश्मीरी छात्रों और व्यापारियों के खिलाफ धमकी और उत्पीड़न की कई खबरें पूरे भारत भर से सामने आ रही हैं। कई कश्मीरी छात्रों को भी कथित रूप से हमले का समर्थन करने के लिए राजद्रोह के आरोप नामजद किया गया है।

जम्मू और कश्मीर के एक पत्रकार पर महाराष्ट्र के पुणे में हमला किया गया था। पुणे में एक अखबार के साथ काम करने वाले जिब्रान नजीर को ट्रैफिक सिग्नल पर हुई एक बहस के बाद गुरुवार को दो लोगों ने कथित तौर पर पीटा भी था। दोनों कथित हमलावरों ने नज़ीर से कहा कि वे उन्हें "कश्मीर वापस भेज देंगे"।

स्थानीय पुलिस, जिसने पहले इसे रोड रेज की घटना बताया था, ने शुक्रवार शाम दो संदिग्ध हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज किया और उनमें से एक को गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि 22 फरवरी को, सुप्रीम कोर्ट ने भी केंद्र और 11 राज्यों से कश्मीरी छात्रों पर कथित हमलों को रोकने का निर्देश दिया था।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# pulwama attack # kashmir # karachi bakery # public lokpal # plnews