हिमाचल के इस ट्रैवेल और डाक्यूमेंट्री फोटोग्राफर के काम को जो देखे,फैन हो जाए.. 

Reported by lokpal report

24 Sep 2018

74

 

 

शिमला : महज 27 साल की उम्र में अपना सिक्का जमा लेने वाले हिमाँशु खागटा हिमाचल प्रदेश के शिमला से हैं. ट्रैवेल और डॉक्यूमेंट्री फोटोग्राफर हिमांशु द्वारा फ्लिकर पर अपलोड की गयी तस्वीरों से प्रभावित होकर एक ट्रैवेल मैगजीन्स ने उन्हें अपने यहाँ काम करने का न्यौता दिया. आपको यह जानकर हैरत होगी कि उस वक़्त हिमांशु हाई स्कूल में पढ़ रहे थे.

अचानक से पेशे से फोटोग्राफर बने हिमांशु ने ट्रैवेल फोटोग्राफर बनने की राह चुनी. कॉलेजे की पढ़ई करते हुए उन्होंने बतौर फ्रीलान्स फोटोग्राफर के रूप में काम करना शुरू कर दिया था.

2008 में, खगटा का एक पोर्ट्रेट स्मिथसोनियन पत्रिका के 6 वें एनुअल फोटो कांटेस्ट में फाइनलिस्ट केटेगरी तक पहुंचे. 

मई 2012 में, खगटा ने जयबीर सिंह विर्क और अमित चौधरी के साथ ट्रैक्टर पर सबसे लंबे हिमालय अभियान का लिम्का वर्ल्ड रिकॉर्ड सेट करने का प्रयास किया था. विर्क और चौधरी ने हिमालय में और आस-पास लगभग 3,623 किमी (2,251 मील) के लिए ड्राइविंग किया, जबकि खगटा ने साथ में सपोर्ट व्हीकल के साथ डॉक्युमेंटेड ट्रिप को पूरा किया.

वर्ष 2012 में, उन्होंने 'ग्रेट वॉश यात्रा' की डॉक्युमेंटरी के लिए एक अपना कैम्पेन शुरू किया. यह कैम्पेन WASH United और Quicksand द्वारा प्रायोजित था. डाक्यूमेंट्री ''यात्रा वाश: "वाटर, सैनिटेशन और हाइजीन को बढ़ावा देने के लिए एक बहुआयामी कैम्पेन था. कुछ अंशों में बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा वित्त पोषित इस कैम्पेन में त्यौहारों पर पारंपरिक भारतीय मेले में संगीत, नाट्य और कलात्मक प्रदर्शन, मनोरंजन और आकर्षण, साथ ही भोजन और पेय को खगटा ने इस इवेंट को अपनी डॉक्यूमेंट्री में दर्ज किया. इस बीच उन्होंने मध्य भारत के करीब 2,000 किलोमीटर (1,200 मील) की यात्रा की.

2014 में, खागटा ने हिमालय की स्पीति घाटी में पूरे सर्दी बिताई. स्फीति घाटी सर्दियों में और बसंत के दौरान पूरी दुनिया से कट जाती है. उन्होंने स्पीति घाटी के लोगों की जीवनचर्या पर अपने अनुभव को हिमांशु ने 'लाइफ इन स्पीति' नाम की किताब में दर्ज किया है. फ़िलहाल स्फीति छोड़ने के तुरंत बाद, वह एक ऐसी ही दीर्घकालिक परियोजना के अंतर्गत 'लाइफ इन शिमला' में शिमला के प्राकृतिक दृश्यों, घटनाओं, लोग और अपने गृहनगर की संस्कृति पर काम कर रहे हैं.

 

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# himanshu khagta # public lokpal # plnews