चुनाव आयोग का इशारा '23 मई को नहीं आएगा लोकसभा चुनाव का नतीजा'!

Reported by lokpal report

15 May 2019

92

 

 
नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव परिणाम 23 मई को चार घंटे की देरी से आने की उम्मीद है या 24 मई की सुबह तक घोषित किया जा सकता है। एक निर्वाचन अधिकारी के अनुसार अदालत ने मतदाता-सत्यापित पेपर ऑडिट ट्रेल या वीवीपीएटी की गिनती एक के बजाय पांच कर दी है। आम चुनाव 2019 के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में पहली बार आम चुनाव में इस्तेमाल की जा रही VVPAT इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम को पर्ची बनाकर प्रत्येक वोट को रिकॉर्ड करने में सक्षम बनाता है।

एक प्रसिद्ध न्यूज़ चैनल से बातचीत में VVPAT के प्रभारी व उप चुनाव आयुक्त सुदीप जैन बताया, "औसतन एक VVPAT का उपयोग करके मतों की गिनती में लगभग एक घंटे लगते हैं। पहले हम एक VVPAT की गिनती कर रहे थे, अब हम चार और जोड़ रहे हैं, जिससे अतिरिक्त चार घंटे बढ़ जाएंगे। इसलिए परिणाम शाम तक या 24 मई सुबह तक सामने आएँगे। "

उन्होंने कहा, "ईवीएम और वीवीपैट में कोई गड़बड़ी नहीं हैं और हमें इसमें कोई संदेह नहीं है कि उसमे किसी तरह की कोई छेड़छाड़ हो सकती है।"

इक्कीस विपक्षी दलों ने कम से कम 25 प्रतिशत ईवीएम पेपर ट्रेल मशीनों की गिनती के लिए कहा था, लेकिन 8 अप्रैल को एक सुनवाई के दौरान, चुनाव आयोग ने याचिका खारिज कर दी थी जिसमें कहा गया था कि अगर ऐसा किया गया तो लोकसभा चुनाव के परिणाम 50 दिनों तक देरी हो सकती है। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव निकाय से कहा था कि वीवीपीएटी मशीनों की संख्या एक से बढ़ाकर सिर्फ पांच की जाए, इसलिए परिणाम आने में अपेक्षाकृत देरी कम होगी।

वर्तमान में चुनाव आयोग "एक ईवीएम प्रति विधानसभा क्षेत्र" दिशानिर्देश के तहत 4,125 ईवीएम के वीवीपीएटी पर्ची से मेल करना होगा। अदालत के आदेश के बाद, चुनाव आयोग को प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में लगभग 20,625 ईवीएम के पांच गुना वीवीपीएटी स्लिप की गिनती करनी होगी।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# vvpat # election commission of india # general elections 2019 # public lokpal # plnews