गाजियाबाद में बदमाशों की गोली से घायल पत्रकार विक्रम जोशी का आज सुबह निधन 

Reported by lokpal report

22 Jul 2020

532

 


गाजियाबाद: 20 जून को गाजियाबाद के विजय नगर में अपने आवास के कुछ बदमाशों द्वारा गोली से घायल पत्रकार विक्रम जोशी का बुधवार को निधन हो गया। उनका इलाज कर रहे एक निजी अस्पताल के डॉक्टर ने कहा कि गोली लगने से पत्रकार के सिर की नसें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई थीं।

परिवार के एक सदस्य ने पीटीआई को बताया, "हां, अब वह (विक्रम जोशी) नहीं है। अस्पताल में इलाज के दौरान सुबह करीब 4 बजे उनका निधन हो गया।"

जन सागर टुडे से जुड़े जोशी को विजय नगर में उनके आवास के पास हमलावरों ने पहले उन्हें मारा-पीटा, उसके बाद एक ने उनकी कनपटी पर पिस्तौल रखकर गोली मार दी।

कहा जा रहा है कि ये वही लोग थे जिनकी शिकायत 16 जुलाई को विजय नगर पुलिस स्टेशन में पत्रकार विक्रम जोशी दर्ज करवाने गए, जिसमें उन्होंने शिकायत की थी कि कुछ लोग उनकी भांजी को छेड़ रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज और प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार विक्रम जोशी अपनी दो बेटियों के साथ मोटरसाइकिल पर सवार थे जब बदमाशों का एक समूह उनपर टूट पड़ा और घायल करने के बाद उनके सिर में गोली मार दी।

इस वारदात के सिलसिले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

इस बीच, चौकी प्रभारी इंस्पेक्टर राघवेंद्र को त्वरित कार्रवाई नहीं करने और पीड़ित के परिवार द्वारा दायर शिकायत की अनदेखी करने के लिए तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। इसके अलावा, पुलिस अधिकारी और थाना प्रभारी के खिलाफ एक विभागीय जांच का आदेश भी दिया गया है। 

गाजियाबाद पुलिस ने कहा कि मुख्य आरोपी सहित 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने कहा ये सभी पत्रकार के परिवार से परिचित थे। गाजियाबाद के विजय नगर इलाके की जहाँ यह हमला हुआ है वहीं की एक सड़क का एक सीसीटीवी फुटेज मिला है। यह हमला रात में करीब 10:30 बजे हुआ था।

इस सम्बन्ध में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।" गिरफ्तार मुख्य अभियुक्त रवि ने कुबूल किया कि विक्रम जोशी के ऊपर उसके द्वारा हमला कराया गया था। जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, उनके नाम हैं- रवि, छोटू, मोहित, दलवीर, आकाश,योगेंद्र, अभिषेक हकला, अभिषेक मोटा और शाकिर। इनमे से एक अभियुक्त आकाश बिहारी की गिरफ्तारी का प्रयास जारी है।

वहीं पत्रकार के परिजनों द्वारा अस्पताल में विरोध प्रदर्शन किये जाने और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए न लेने दिए जाने के बाद प्रदेश सरकार ने परिवार को 10 लाख रुपये बतौर मुआवजा देने की घोषणा की है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कानून व्यवस्था को विपक्ष ने घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस नेता व वायनाड सांसद राहुल गाँधी ने आज ट्वीट में लिखा ''अपनी भांजी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी गयी। शोकग्रस्त परिवार को मेरी सांत्वना। वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज।''

कल सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट किया था ''ग़ाज़ियाबाद में अपनी बेटी के साथ बाइक पर जा रहे एक पत्रकार को गोली मारने से प्रदेश की जनता सकते में हैं. भाजपा सरकार स्पष्ट करे कि क़ानून-व्यवस्था की धज्जियाँ उड़ानेवाले इन अपराधियों-बदमाशों के हौसले किसके बलबूते पर फल-फूल रहे हैं. उनके नवजीवन के लिए प्रार्थना!''

Also Read- गाजियाबाद में बदमाशों ने पत्रकार पर दागी गोली, 9 गिरफ्तार

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# vikram joshi # vikram joshi murder case # law and order up # public lokpal # plnews