गिरफ्तार फ्रीलांस पत्रकार राजीव शर्मा के बारे में स्पेशल सेल ने किए बड़े खुलासे

Reported by lokpal report

19 Sep 2020

47

 


नई दिल्ली: 14 सितम्बर को गिरफ्तार फ्रीलान्स पत्रकार राजीव शर्मा पर स्पेशल सेल ने कई बड़े खुलासे किये हैं। शुरुआती जांच में ये पता चला कि राजीव शर्मा चीनी इंटेलिजेंस अफसरों के सम्पर्क में हैं और यहां से संवेदनशील सूचना भेज रहे थे। इस मामले में पूछताछ के आधार एक चीनी महिला किंग शी और उसके सहयोगी नेपाली नागरिक राज बोहरा को भी हिरासत में लिया गया है।

राजीव शर्मा 40 साल से पत्रकारिता कर रहे हैं। UNI, HT, TOI, ट्रिब्यून जैसी कई मीडिया संस्थानों में काम कर चुके राजीव 2010 के बाद से फ्रीलांस जर्नलिज्म कर रहे थे। उस समय से वह चाइनीज़ एजेंसी ग्लोबल टाइम्स के आर्टिकल लिखते थे। 2016 में राजीव का संपर्क एक चाइनीज अफसर माइकल से लिंक्डइन के जरिए हुआ। जिसने राजीव को चीन आमंत्रित किया, जहां पर शर्मा को भारत की रक्षा, भारत चीन सीमा से जुड़ी सूचना देने के लिए प्रलोभन दिया गया। 

इसके बाद राजीव ने माइकल को 2016 से 2018 तक बहुत सी सूचना पहुंचाई। 2019 में इनका संपर्क दूसरे चीनी अफसर जॉर्ज से हुआ। इस बीच इनकी मीटिंग अलग-अलग देशों मालदीव, थाईलैंड, लाओस, काठमांडू में होती रही। 2019 के बाद जॉर्ज के संपर्क में रहे और सूचना भेजते रहे। बदले में हवाला के जरिये राजीव को एक साल में 40 से 50 लाख रूपये की मोटी रकम मिलती रही है। फिलहाल पुलिस शर्मा से पूछताछ कर रही है। शर्मा के पास से लैपटॉप, 10-12 मोबाइल फ़ोन, ATM कार्ड बरामद हुए हैं।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# rajiv sharma # public lokpal # plnews