बजट 2019 : जानें क्या निकला सीतारमण के बहीखाते से, क्या हुआ महंगा और किसके दाम घटे?

Reported by lokpal report

05 Jul 2019

47

 

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में आम करदाताओं के लिए लागू आयकर दरों को बरकरार रखा, लेकिन उत्पाद शुल्क और उपकर के संदर्भ में कुछ बदलाव प्रस्तावित किए। सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर उपकर और उत्पाद शुल्क में 1 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की घोषणा की, और सोने पर सीमा शुल्क 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 12.5 प्रतिशत कर दिया। दोनों प्रस्तावों का मतलब कि ईंधन और सोना जैसी वस्तुओं की खरीद अब महँगी हो जाएगी।

वित्तमंत्री सीतारमण ने कहा कि सोने और कीमती धातुओं पर उच्च सीमा शुल्क लगाने से संसाधन जुटेंगे। इसके अलावा, सरकार ने टाइल्स, काजू, विनाइल फ़्लोरिंग, ऑटो पार्ट्स, कुछ सिंथेटिक रबर, डिजिटल और वीडियो रिकॉर्डर और सीसीटीवी कैमरा जैसे उत्पादों पर लागू सीमा शुल्क में वृद्धि की है।

दूसरी ओर, सरकार ने घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए कुछ कच्चे माल और पूंजीगत वस्तुओं पर सीमा शुल्क को कम करने का प्रस्ताव दिया। इनमें अनाकृत मिश्र धातु रिबन, एथिलीन डी-क्लोराइड, प्रोपलीन ऑक्साइड, कोबाल्ट मैट, नेफ्था, ऊन के रेशे, कृत्रिम गुर्दे के निर्माण के लिए इनपुट और डिस्पोजेबल स्टर्लाइज्ड डायलेसर और परमाणु ऊर्जा संयंत्रों के लिए ईंधन शामिल हैं।

क्या हुआ महंगा :
पेट्रोल, डीज़ल, सोना चाँदी, सिगरेट, हुक्का, पूरी तरह से आयातित कारें, ऑटोमोबाइल पार्ट्स, ऑप्टिकल फाइबर केबल, डिजिटल कैमरा, काजू, सिंथेटिक रबर, विनयल फ्लोर, आयातित किताबें, स्प्लिट एयर-कंडीशनर, लाउडस्पीकरों, डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरे, आयातित प्लास्टिक, साबुन के निर्माण के लिए कच्चा माल, टाइल्स, आयातित स्टेनलेस स्टील उत्पादों, अखबारी कागज, समायोजित होने वाले फर्नीचर, कैमरा मॉड्यूल और मोबाइल फोन का चार्जर

क्या हुआ सस्ता 
इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और इलेक्ट्रिक वाहन, सेट-टॉप बॉक्स, मोबाइल चार्जर। भारत में निर्मित न होने वाले यानी आयत किये जाने वाले रक्षा उपकरणों को भी मूल सीमा शुल्क से मुक्त किये जाने का प्रस्ताव है।

इस बीच, पीएम मोदी ने कहा कि आज पेश किया गया केंद्रीय बजट "हर एक की आशा है" और "यह एक ऐसा बजट है जो 21 वीं सदी में भारत के विकास को बढ़ावा देगा"।

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# budget 2019 # union budget 2019 # narendra modi # public lokpal # plnews