कांग्रेस ने शुरू की हार पर मंथन, कीर्ति होते उम्मीदवार तो दरभंगा से जीत होती सुनिश्चित

Reported by lokpal report

09 Jun 2019

81

पटना: लोकसभा चुनाव के दौरान बिहार में मिली करारी हार के कारणों को ढूंढ़ने के लिए बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी की बैठक पटना में जारी है. पटना के सदाकत आश्रम में हो रही इस बैठक में जिलाध्यक्षों को बुलाया गया है. इस बैठक में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा भी मौजूद हैं और उनकी ही अध्यक्षता में ये बैठक हो रही है. झा समेत इस बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी, चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष अखिलेश सिंह भी मौजूद हैं.

बैठक के दौरान कई जिलाध्यक्षों ने चुनाव में प्रत्याशियों के चयन पर भी सवाल उठाया है. जिलाध्यक्षों का साफ तौर पर कहना था कि सही तौर से गठबंधन नहीं हुआ था और न ही सही उम्मीदवार दिए गए थे. बिहार में कांग्रेस को जो भी नौ सीटें दी गई वो भी सम्मानजनक नहीं था. सारण सीट पर महागठबंधन की हार को तेजप्रताप और उनके ससुर का विवाद बताया गया.

बैठक में कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने दरभंगा सीट का मुद्दा उठाया. अखिलेश ने कहा कि मिथिलांचल की सीट हमारी जीती हुई सीट थी लेकिन ये सीट हमें नहीं दी गई. यदि इस सीट से कीर्ति आजाद को टिकट दिया जाता तो उनको जरूर जीत मिलती और ये सीट हमारे खाते में जाती.

(पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर । LIKE कीजिये PUBLICLOKPAL का फेसबुक पेज)

निम्नलिखित टैग संबंधित खबरें पढ़े :

# congress # patna # public lokpal # plnews